गाव मे मेरी ओर अम्मी की रास लीला

जनता हू असलम तेरा बेटा है लेकिन तू तो गाव के बाहर कर दी थी तब मा कहा गयी थी तेरी गान्ड मे! इकबाल बोला हम दोनों मजे लेगे आज तू रन्डी है मेरी.

Read more

ग्रुप सेक्स – समूह में चुदाई – भाग 4 (अंतिम भाग)

मैं भागने वालों में से नहीं थी। मुझे तो इस चुदाई में इतना मजा आ रहा था की बस मैं यही नहीं कह रही थी, “चोदो भड़वो और जोर लगा कर चोदो, फाड़ो मेरी चूत, घुस जाओ अंदर।

Read more

ग्रुप सेक्स – समूह में चुदाई – भाग 3

मैंने सुमित को जब लड़के की लड़कों के साथ मस्ती वाली बात बताई तो उसकी आखों में चमक आ गई। इस बात की तो उसने परवाह भी नहीं की कि उसकी बीवी को कोइ और चोदेगा

Read more

ग्रुप सेक्स – समूह में चुदाई – भाग 2

संदीप ने रेनू को कमर से इतनी टाइट पाकड़ा हुआ था की लम्बे धक्कों के बावजूद संदीप रश्मि को हिलने नहीं दे रहा था। कुत्ता कुतिया को चोदते वक़्त यही करता है।

Read more

ग्रुप सेक्स – समूह में चुदाई – भाग 1

वैसे आजकल लड़कियां ना भी चुदें तो भी चूत में उंगली तो करती ही हैं। अब ऐसे में चूत की सील कहां बचेगी। लड़की ना भी चुदी हो तो भी सील खत्म हो जाती है।

Read more